Cryptocurrency क्या है? Cryptocurrency कैसे काम करती है?

Hello दोस्तो, स्वागत है आपका techsadhan मे आज हम लोग cryptocurrency क्या है और यह कैसे काम करती है के बारे मे अच्छे तरह से जानकारी प्राप्त करेंगे।

आपने कभी क्रिप्टो करेंसी का नाम सुना है अगर नहीं सुना तो आज हम आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में बताएंगे।

दुनिया में कितने तरह-तरह के करेंसी होते हैं। जिसके मदद से हम लेनदेन का हिसाब करते हैं। भारत में रुपए करेंसी का इस्तेमाल किया जाता है। जब हम किसी से कोई वस्तु खरीदते हैं तो उसके बदले उस व्यक्ति को रुपये देते हैं जो कि एक प्रकार की करेंसी है।

अलग-अलग देशों के लिए अलग-अलग currency का इस्तेमाल किया जाता है।

मगर आज के इस दौर में लगभग लगभग सभी चीजें ऑनलाइन हो गई है इसलिए हम लोग करेंसी को भी ऑनलाइन इस्तेमाल करते हैं। भारत में रुपया के द्वारा ऑनलाइन ट्रांजैक्शन होता है।

ठीक वैसे ही अलग-अलग देशों में उस देश के करेंसी के अनुसार ऑनलाइन ट्रांजैक्शन किया जाता है।

लेकिन दोस्तों क्या आप जानते हैं पूरे दुनिया में एक करेंसी ऐसा भी है। जो डिजिटल करेंसी के तरह इस्तेमाल किया जाता है इस करेंसी को हम Cryptocurrency कहते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम लोग Cryptocurrency क्या है, इसे कैसे खरीदते हैं, क्रिप्टोकरेंसी के क्या फायदे हैं, क्रिप्टोकरेंसी के क्या नुकसान है, और भी बहुत सारी महत्वपूर्ण जानकारियां जो Cryptocurrency से जुड़ी है उसके बारे में जानेंगे। तो आइए दोस्तों सबसे पहले हम लोग यह जानते हैं क्रिप्टो करेंसी क्या है।


Cryptocurrency क्या है?

हमने आपको ऊपर में बताया कि प्रत्येक देश का अपना एक करेंसी होता है। जैसे कि अमेरिका के पास डॉलर है, रूस के पास रूबल है, चीन के पास युवान है, कुवैत में दीनार है और भारत के पास रुपया है।

वैसे सभी लोग जागते ही है currency क्या होती है लेकिन मैं फिर भी आप लोगों को बता देना चाहता हूं। करेंसी उस देश से मान्यता प्राप्त मुद्रा है। जिसके मदद से लेनदेन हिसाब किया जाता है।

किसी भी देश के करेंसी को धातु के टुकड़े या फिर कागज पर प्रिंट किया जाता है। इन करेंसी को हाथों से छुआ जा सकता है। मतलब यह एक प्रकार का फिजिकल करेंसी होता है।

लेकिन अगर क्रिप्टो करेंसी की बात किया जाए तो यह एक प्रकार का डिजिटल करेंसी होता है। जिसे हम छू नहीं सकते हैं। यह केवल इंटरनेट की दुनिया में ही रहता है और इसका सारा ट्रांजैक्शन डिजिटल रूप में ही होता है।

Cryptocurrency एक प्रकार का वर्चुअल करेंसी होता है। यह दुनिया के किसी भी देश की सरकार के अंतर्गत नहीं आता है।

क्रिप्टो करेंसी पूरी तरह से एक स्वतंत्र डिजिटल करेंसी होता है। जिसका इस्तेमाल हमेशा डिजिटल रूप में ही किया जाता है। इसके लेनदेन के वेरिफिकेशन के लिए डिजिटल सिग्नेचर का उपयोग किया जाता है। यह सभी जानकारी को क्रिप्टोग्राफी में सेव करता है।

यह peer to peer electronic system पर आधारित होता है। जो इंटरनेट के द्वारा कंप्यूटर algorithm पर बना हुआ है।

क्रिप्टो करेंसी पूरी तरह से ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर आधारित करेंसी होता है। इसके सभी transection को क्रिप्टोग्राफी के मदद से सेव किया जाता है।

Cryptocurrency का इतिहास

दुनिया के सबसे पहला Cryptocurrency बिटकॉइन है। इसका आविष्कार सन 2008 मे सतोशी नाकामोतो नामक एक अभियंता ने किया था। और सन 2009 में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में इसे launch कर दिया था। इस Cryptocurrency coin के आते ही दुनियाभर में धूम मच गया था। एक आंकड़े के अनुसार साल 2010 से साल 2017 तक लोगों ने bitcoin मे पैसा इन्वेस्ट करके बहुत ज्यादा profit कमाया।

Cryptocurrency कैसे काम करती है?

क्रिप्टोकरंसी एक कंप्यूटर नेटवर्क के माध्यम से ऑपरेट होने वाला करेंसी है। जो ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर आधारित है। यहां पर जितने भी ट्रांजैक्शन होते हैं वह सबका रिकॉर्ड save किया जाता है। और यह सब कंप्यूटर network पर होता है। इस प्रोसेस को Cryptocurrency माइनिंग कहते हैं। आज के दौर में इंटरनेट पर बहुत सारे Cryptocurrency माइनिंग सॉफ्टवेयर उपलब्ध है।

जैसा कि हमने आपको ऊपर में बताया कि क्रिप्टोकरंसी का सभी ट्रांजैक्शन के हिस्ट्री को ब्लॉकचेन के अंदर सेव करके रखा जाता है। इस ब्लॉकचेन में जितने भी security और encryption का काम होता है वह सब miners का होता है।

इसलिए माइनर के मदद से एक क्रिप्टोग्राफिक puzzle को सॉल्व करके एक बेहतर ब्लॉक code को ढूंढा जाता है।

जब miners अच्छे ब्लॉक कोड को ढूंढ लेता है तो उसे ब्लॉकचेन में ऐड कर दिया जाता है।

इसके बाद इसको कंप्यूटर नेटवर्क के द्वारा verification  किया जाता है। इस वेरीफिकेशन प्रोसेस को consensus  कहते हैं।

जब वेरीफिकेशन प्रोसेस पूरा हो जाता है मतलब consensus पूरी तरह से सुरक्षित हो जाता है। तब जिस माइनर ने इसको सिक्योर किया है। उसे कुछ क्रिप्टो करेंसी क्वाइन दे दिया जाता है। यह कुछ क्रिप्टो करेंसी coins miners के लिए rewards की तरह काम करता है। इन coins को प्रूफ ऑफ वर्क कहते हैं।

क्रिप्टो करेंसी का वैल्यू

मैंने आपको ऊपर ही बता दिया है कि Cryptocurrency एक प्रकार का डिजिटल करेंसी है। इसे आप नोट या सिक्को के तरह अपने बैंक में नहीं रख सकते हैं। क्रिप्टो करेंसी को इलेक्ट्रॉनिक मनी के नाम से भी जाना जाता है। क्रिप्टो करेंसी का मार्केट बहुत ही ज्यादा वर्चुअल मार्केट है। मतलब इसके मूल्य में प्रत्येक दिन बहुत ज्यादा बदलाव होते रहते हैं। इसका value कभी भी एक जगह पर नहीं रुकती है। अगर हम पिछले कुछ सालों का रिकॉर्ड देखे तो यह दिन प्रतिदिन महंगा होता जा रहा है।

क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट कैसे करें?

आज से कुछ वर्ष पहले Cryptocurrency में इन्वेस्ट करना बहुत मुश्किल था। लेकिन आज के समय में क्रिप्टोकरंसी में इन्वेस्ट करना बहुत आसान हो गया है। इंटरनेट पर कितने सारे ऐसे वेबसाइट हैं और अब भी मौजूद हैं। जहां आप क्रिप्टो करेंसी में आसानी से इन्वेस्ट कर सकते हैं।

लेकिन यहां आपको एक सही प्लेटफॉर्म को चुनना बहुत ज्यादा जरूरी है। नहीं तो आप अपने इन्वेस्टमेंट किए हुए पैसे को डूबा सकते हैं।

अगर वर्ल्ड वाइड बात किया जाए तो बाइनेंस सबसे ज्यादा भरोसेमंद Application है। जहां से आप क्रिप्टो करेंसी buy और sell कर सकते हैं।

लेकिन अगर इंडिया की बात की जाए तो यहां wazirx सबसे ज्यादा भरोसेमंद है।

इन applications पर आप अपना KYC पूरा करके बड़े ही आसानी से कोई भी cryptocurrency को खरीद सकते हैं।

अगर आप क्रिप्टो करेंसी में पैसा इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो मैं आपको अपने तरफ से एक सुझाव देना चाहता हूं। आप Cryptocurrency में long-term के लिए पैसा इन्वेस्ट करें और किसी अच्छे कॉइन में इन्वेस्ट करें।

क्रिप्टोकरेंसी के प्रकार (Top Cryptocurrencies)

जब भी हम Cryptocurrency के प्रकार की बात करते हैं या टॉप Cryptocurrency की बात करते हैं तो हमारे मन में सबसे पहले बिटकॉइन का नाम याद आता है।

लेकिन बिटकॉइन के अलावा और भी अच्छे-अच्छे Cryptocurrency coins मौजूद है। मैं यहां पर ज्यादा क्रिप्टोकरंसी coins का नाम तो नहीं लूंगा।

मगर मैं आपको वैसा तरीका बता दूंगा जिस के मदद से आप टॉप क्रिप्टोकरंसी का पता आसानी से लगा सकते हैं। उस वेबसाइट का नाम coinmarketcap है।

अगर आप टॉप Cryptocurrencies के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो इस वेबसाइट पर एक बार जरूर विजिट करें।

यहां पर रैंक वाइज, Volume wise, profit wise, loss wise, top 100 Cryptocurrency coins का विश्लेषण बड़े ही आसानी से कर सकते हैं।

मैं Coinmarketcap के अनुसार टॉप 10 क्रिप्टो करेंसी का नाम यहां लिख रहा हूं।

1. BITCOIN ( BTC )
2. ETHEREUM ( ETH )
3. TETHER ( USDT )
4. BINANCE ( BNB )
5. USD COIN
6. RIPPLE ( XRP )
7. BINANCE USD ( BUSD )
8. DOGECOIN ( DOGE )
9. CARDANO ( ADA )
10. SOLANA ( SOL )

अगर आप Top Cryptocurrencies के बारे मे अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो Coinmarketcap वेबसाइट पर जरूर visit करे।

Cryptocurrency के फायदे

आज के दौर में Cryptocurrency का इस्तेमाल बहुत ही ज्यादा हो रहा है। लोग Cryptocurrency में सबसे ज्यादा पैसा इन्वेस्ट कर रहे हैं। लेकिन कितने लोगों के मन में एक सवाल जरूर आता है। Cryptocurrency के क्या फायदे हैं तो आइए जानते हैं Cryptocurrency के क्या फायदे हैं।

Cryptocurrency पूरी तरह से Secure होता है क्योंकि यह एक डिजिटल करेंसी है। यहां पर Fraud होने की संभावना बहुत कम होती है।

आपको Cryptocurrency में बहुत से डिजिटल बैलेंस मिल जाते हैं। जिसके मदद से आप इसमे आसानी से इन्वेस्ट कर सकते हैं।

Cryptocurrency को खरीदना और बेचना बहुत आसान होता है। आप इसे कभी भी खरीद सकते और कभी भी बेच सकते हैं।

Cryptocurrency मे पैसे इन्वेस्ट करने के लिए आपको किसी बैंक भी आवश्यकता नहीं होती है।

अगर आप Cryptocurrency मे पैसे इन्वेस्ट करते हैं तो आपको अच्छा खासा मुनाफा हो सकता है। लेकिन ये पूरी तरह से मार्केट पर निर्भर करता है।

Cryptocurrency के नुकसान

जिस तरह हर एक चीजें का फायदा होता है उसी तरह उसके कुछ नुकसान भी होते हैं।

क्रिप्टो करेंसी से सबसे ज्यादा नुकसान Investors को हो सकता है। क्योंकि इस पर कोई भी Authority का नियंत्रण नहीं होता है।

क्योंकि इन्वेस्टर को पता नहीं होता कब Cryptocurrency का मार्केट ऊपर जाएगा और कब मार्केट नीचे जाएगा। मतलब कब Cryptocurrency का Price घटेगा और कब बढ़ेगा।

Cryptocurrency एक डिजिटल करेंसी है यहां ऑनलाइन हैकिंग का attack होते रहते हैं।

लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है Cryptocurrency पूरी तरह से Secure होता है।

आज के समय में Cryptocurrency का इस्तेमाल ज्यादातर illegal activities के लिए हो रहा है।

Conclusion :-

तो दोस्तो, मैंने आपको अपने तरफ Cryptocurrency से जुड़ी बेसिक Information को देने की पूरी कोशिश की है। लेकिन अगर आप इसमे पैसे invest करने की सोच रहे हैं तो आप इसके बारे मे और अच्छी तरह से जानकारी प्राप्त कर ले।

क्युकी एक कहावत आपने भी सुनी होगी FIRST LEARN THEN EARN

उम्मीद करते हैं आज का post Cryptocurrency क्या है और यह कैसे काम करता है आपको पसंद आया होगा।

अगर इससे जुड़े आपके मन में कोई भी बात हो तो आप हमे comment करके जरूर बतायें।

Leave a Comment