Meta Description क्या होता है और इसे कैसे लिखते हैं

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका techsadhan में आज हम Meta Description क्या होता है और इसे कैसे लिखते हैं के बारे मे discuss करेंगे।

दोस्तों , एक ब्लॉग को starting करना बहुत आसान है लेकिन उसको Maintain रखना उतना ही मुश्किल होता है।

आपको अपने ब्लॉग के बहुत से छोटे छोटे SEO Terms को learn करना होगा।

क्युकि बिना यह Term सीखें आप अपनी ब्लॉग्गिंग की journey में successful नहीं हो सकते हैं।

यही छोटे छोटे terms आपके सर्च इंजन में रैंकिंग को Improve करने में बहुत मदद करते है।

इसलिए आपको ऐसे terms को सीखते रहना चाहिए ताकि आप अपने blog का SEO को Improve कर सके।

इन्हीं छोटी terms मे से एक है Meta description.

Meta description बहुत important है क्युकी इसके बिना आपके article के visibility Google में possible नहीं है।

यदि आप खुद से अपने article का Meta description नहीं लिखते हैं। तो Google अपने हिसाब से आपके article का Meta description declare कर देता है।

इससे आपको पता चल गया होगा कि Google के नजर में Meta description कितना important है।

आज मैं इस article मे बताऊँगा कि blogger और WordPress पर Meta description कैसे लिखे।

Meta description क्या है?

आपके post कि छोटी सी summary को Meta description कहते हैं। जो google user के सामने tittle के साथ दिखता है।

Meta description आपके post के बारे में audiance को जानकारी देने में help करता है।

यदि Google में इसकी position कि बात करे तो जब आप Google पर किसी भी चीज को search करते हैं।

और आपके सामने search result आता है। इस search results मे कुछ elements होते हैं।

इसमे एक Title होता है और एक Url होता है। टाइटल के नीचे आपको 2 लाइन का content दिखाई देता है। यही 2 लाइन का Content उस पोस्ट का मेटा डिस्क्रिप्शन होता है।

तो दोस्तो अब आपको मेटा डिस्क्रिप्शन के बारे में पता चल गया होगा कि यह कहाँ पर show होता है। और यह ब्लॉग की रैंकिंग में कितना Importance होता है।

Meta Tag क्या है :–

Meta Tag आपके ब्लॉग या वेबसाइट के Seo के लिए बहुत ज्यादा important होता है।

मेटा टैग को 2 भाग में बाटा गया है।

1 ) Meta Title

2 ) Meta Description

जब आप कोई keyword को search करते हैं तो आपके सामने बहुत सारे result दिखने लगता है उस समय आपको Meta title और Meta Description भी सर्च रिजल्ट में दिखाई देने लगता है।

Meta Tag को आप देख नहीं सकते हैं लेकिन यह Search Engine के लिए visible होता है।

अगर आपको Meta Tag देखना है तो आप अपने Post मे view page source को open करे। वहा आपको head के नीचे Meta Tag दिखाई देगा।

Meta Description के कितने प्रकार है :–

दोस्तों , Meta Description mainly 3 प्रकार के होते है। इन सब का काम अपने Role के अनुसार अलग अलग होता है।

1 ) Meta Tag :–

यह आपके Page के Head Section में placed होता है और Crawler इसे Read करके आपके सारे आर्टिकल के बारे जानकारी प्राप्त कर सकता है।

आप अपने मेटा टैग में अपना Main Keyword को जरूर रखने की कोशिश करे।

2 ) Meta Description Tag :–

यह आपके आर्टिकल का एक छोटी सा Summary होता है और जिससे आर्टिकल को Brief करने में मदद मिलती है।

3 ) Meta Robot Tag :–

Meta Robot Tag एक तरह से Google Bots को Invite करते है जिससे Bots आपके ब्लॉग पर आते हैं। और आपके पोस्ट को Crawl करके fast इंडेक्स में मदद करते हैं।

Meta Description लिखने का best तरीका –

दोस्तो, चाहे आप WordPress पर काम करे या ब्लॉगर पर लेकिन आपको Meta Description लिखने के समय कुछ बातों पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।

A ) Meta Description Length :–

यह बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण factor है। Meta Description के length मे आपको 150 words से ज्यादा नहीं लिखना चाहिए।

क्युकी 150 words से ज्यादा word होने पर Google के search पेज मे पूरा दिखाई नहीं देता है। जिससे seo optimization के लिए सही नहीं है।

B) सही Focus Keyword का उपयोग करे :-

आप अपने Meta Description मे focus keyword को जरूर शामिल करे।

क्योंकि जब यूजर कुछ query करता है उस समय यदि डिस्क्रिप्शन में उसके search से related वह कीवर्ड रहता है तो गूगल सर्च में उस पोस्ट के visibility के chances बढ़ जाते है।

यह एक प्रकार से good SEO practice के लिए अच्छा उदाहरण है

C) मेटा डिस्क्रिप्शन में क्या क्या लिखे –

आपको मेटा डिस्क्रिप्शन के अंदर अपने पोस्ट से related एक छोटा सा सारांश लिखना है।

ताकि user आपकी पोस्ट के बारे मे बिना पूरा पोस्ट पढ़े ही समझ जाए की यह पोस्ट किसके बारे में लिखा हुआ है।

D) Post के Paragraph को use नहीं करे :-

अगर आप अपने Post का Meta Description अलग से लिखते हैं तब आप उसको बहुत अच्छे से explain कर सकते हैं।

इसीलिए आप पोस्ट के Paragraph को Meta Description के लिए इस्तेमाल नहीं करे।

E) Attractive Words को use करे –

दोस्तों , आप अपना Meta Description को लिखने के समय आकर्षित शब्दों का उपयोग जरूर करे।

इससे यूज़र का ध्यान आपके पोस्ट के ऊपर जल्दी जाता है जिसके कारण आपके पोस्ट के ऊपर क्लिक करने का chances बढ़ जाता है। और पोस्ट का ctr भी improve हो सकता है।

Meta Description का use कैसे करे –

दोस्तों , वर्डप्रेस और ब्लॉगर दोनों में मेटा डिस्क्रिप्शन को लिखने का तरीका अलग अलग होता है।

मै आपको दोनों में मेटा डिस्क्रिप्शन कैसे लिख सकते है उसके बारे में बताऊंगा।

1 ) WordPress में Meta Description कैसे लिखे:-

WordPress में मेटा डिस्क्रिप्शन लिखने के लिए सबसे पहले आपको एक Plugin Install करना होगा।

आप Yoast SEO या Rank Math मे से कोई भी एक plugin को install कर लीजिए।

अब आपको posts मे जाकर जिसमे Meta Description लिखना है उस post को open करना है और post के सबसे अंत मे आपको Description का एक बॉक्स दिखाई दे रहा होगा।

वहा आपको Description box मे well Optimized 150 words का Meta Description लिखना है जिसमें आपको अपने Main Keyword को जरूर शामिल करना है।

इस तरह आप WordPress मे Meta Description को आसानी से लिख सकते हैं।

2 ) Blogger में Meta Description कैसे लिखे :-

सबसे पहले ब्लॉगर के homepage पर उस post को open करना है जिसका आप Meta Description लिखना चाहते हैं।

Post के open होने के बाद right side मे Search Description का option है।

आपको इसी Search Description को open करके इसमे 150 words का Meta Description लिखना है।

इस तरह आप ब्लॉगर मे भी Meta Description को आसानी से लिख सकते हैं।

Meta Description के फायदे :-

दोस्तो, Meta Description का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह google को बताता है कि आपका post किस query का Answer देता है।

आसान भाषा में कहें तो यह आपके ब्लॉग पोस्ट को Google पर visibility प्रदान करता है।

इससे आपका ब्लॉग का Ranking भी Google search engine मे improve होता है।

एक बात और अगर आप अपने Post का Meta Description अच्छे से optimize नहीं करते है तो google अपने हिसाब से Meta Description को लिख देता है जो आपके articles मे लिखा होता है।

दोस्तो उम्मीद करते हैं आज का post ” Meta Description क्या होता है और इसे कैसे लिखते हैं ” आप लोगों को बहुत पसंद आया होगा।

यदि इस पोस्ट से related कोई भी विचार आपके मन में है तो हमे comment करके जरूर बताए।

Leave a Comment